Monday, November 23, 2009

कविता प्रतियोगिता सूचना

हिन्दी साहित्य मंच "तृतीय कविता प्रतियोगिता " दिसंबर " माह से शुरू हो रही है । इस कविता प्रतियोगिता के लिए किसी विषय का निर्धारण नहीं किया गया है अतः साहित्यप्रेमी स्वइच्छा से किसी भी विषय पर अपनी रचना भेज सकते हैं । रचना आपकी स्वरचित होना अनिवार्य है । आपकी रचना हमें नवम्बर माह के अन्तिम दिन तक मिल जानी चाहिए । इसके बाद आयी हुई रचना स्वीकार नहीं की जायेगी ।आप अपनी रचना हमें " यूनिकोड या क्रूर्तिदेव " फांट में ही भेंजें । आप सभी से यह अनुरोध है कि मात्र एक ही रचना हमें कविता प्रतियोगिता हेतु भेजें । रचना के साथ अपना फोन नम्बर और पता भी जरुर संलग्न करें, जिससे संपर्क किया जा सके। प्रथम द्वितीय एवं तृतीय स्थान पर आने वाली रचना को पुरस्कृत किया जायेगा । दो रचना को सांत्वना पुरस्कार दिया जायेगा । सर्वश्रेष्ठ कविता का चयन हमारे निर्णायक मण्डल द्वारा किया जायेगा । जो सभी को मान्य होगा । आइये इस प्रयास को सफल बनायें । हमारे इस पते पर अपनी रचना भेजें -hindisahityamanch@gmail.com .आप हमारे इस नं पर संपर्क कर सकते हैं- 09818837469, 09891584813, हिन्दी साहित्य मंच एक प्रयास कर रहा है राष्ट्रभाषा " हिन्दी " के लिए । आप सब इस प्रयास में अपनी भागीगारी कर इस प्रयास को सफल बनायें । आइये हमारे साथ हिन्दी साहित्य मंच पर । हिन्दी का एक विरवा लगाये जिससे आने वाले समय में एक हिन्दीभाषी राष्ट्र की कल्पना को साकार रूप दे सकें ।

20 comments:

  1. बहुत बडिया प्रयास है बधाई

    ReplyDelete
  2. सफल हो आपका प्रयास ...शुभकामनायें ..!!

    ReplyDelete
  3. आपका प्रयास सफल हो...शुभकामनायें ..!!

    ReplyDelete
  4. सुप्रयास..निश्चित ही सफल..!

    ReplyDelete
  5. अच्छा प्रयास है दुबे साहब, जानकारी के लिए शुक्रिया !!

    ReplyDelete
  6. बहुत ही अच्छा प्रयास है! आप ज़रूर सफल होंगे ! मेरी शुभकामनायें हमेशा है आपके साथ!

    ReplyDelete
  7. वाह मिथलेश जी, मंच फिर से अपनी कविता प्रतियोगिता ला रहा है, जान कर हर्ष हुआ।

    ReplyDelete
  8. बहुत अच्छी कोशिश अच्छा लगा जान कर शुक्रिया

    ReplyDelete
  9. prayaas acchha hai.........lekin kya karen...?kavita karna apne bas ki baat nahi...

    ReplyDelete
  10. प्रयास आपका सहयोग हमारा..... आज ही करता हूँ....

    ReplyDelete
  11. कृपया यह भी बताएं कि ब्लॉग वगैरह पर पहले प्रकाशित हुई कविता स्वीकार की जाएगी या नहीं।

    ReplyDelete
  12. यही खुबसूरत प्रयास ही कुछ खुबसुत कलीयों को फूल बननें का मोका देगे। ओर हजारो को उन गलो की खुशबु बिखेरे गे। बधाई।

    ReplyDelete
  13. यह प्रयास बहुत अच्छा है । ज़रूर सफ़ल होगा।

    ReplyDelete
  14. विवेक जी आपकी कविता कहीं भी प्रकाशित ना हों , वही रचना हमें भेंजे।

    ReplyDelete
  15. आपका प्रयास सफल हो ऐसी शुभ कामना है ......... .

    ReplyDelete
  16. अच्छा काम कर रहे हैं हमारी शुभ कामना हैं आपके साथ!!!

    ReplyDelete
  17. aap ke is uttam pryash ke liye aap ko bhut bhut badhaayi

    saadar
    praveen pathik
    9971969084

    ReplyDelete
  18. मैं भी ज़रूर कुछ लिखूंगी मिथिलेश जी...

    ReplyDelete
  19. मैं तो कविता पढता हूँ बस.. खूब मजे ले के.. आपको शुभकामनाये

    ReplyDelete

आपकी राय हमारे लिये महत्तवपूर्ण है । अपनी बात को बेबाकी से कहें ।