Thursday, June 10, 2010

डेल्ही के भोलागर ....अब खूब भोलिए चटका चटका ..कमेन्ट कमेन्ट ..हम चले इलाहबाद ...मिथिलेश दुबे

प्रमेन्द्र भाई की पोस्ट को सभ्य भाषा में लिखा जाना ""ब्‍लागिंग वाले गुंड़ो मै "महाशक्ति" चुनौती स्‍वीकार करता हूँ" आज तक किसी भी प्रकार से कमतर आंकने की जो गलती कर रहें हैं वो सावधान .............? १५ जून को आपके लिए काठ खोला जा रहा है.........और जो चटके और कमेन्ट के भूखे हैं वो रहें तैयार ......उनकी साडी इच्छा पूरी की जाएगी ...........प्रमेन्द्र भाई अभी भी सम्मानित और मर्यादा की बात कर रहे हैं पर नीशू तिवारी का कमेट इसका जवाब है...की जैसे को तैसा .............यहाँ गांधीगिरी की नहीं भगत सिंह जैसी विचार धारा की जरूरत ............राजकुमार सोनी और राजीव तनेजा आपको अच्छा व्यंग लिखना आता हैं न पर मुझे आता ............तो आपलोग अब तैयार रहिये खूब सारे व्यंग लिखे को ............क्यूंकि आपकी रेटिंग को हम सब बढ़ने वाले हैं ...........आपको कूड़ा लिखने का जो सुख मिलता है उसमे अब चार चाँद लगने वाले हैं.................
मैं तो जा रहा हूँ इलाहाबाद जिसको जो उखाड़ना ?>)( हैं आये न ...............ज्यादा नहीं बस कुछ दिन और ...........आओ न अब मिलकर कमेट कमेन्ट और चटका चटका खेलते हैं ......देखते हैं किसकी पोस्ट की औकात जयादा होगी ..........दिल्ली वाले भोलागर अब तो लिखने और पढने के साथ साथ सुनने की भी छमता बाधा लो ..............बहुतु कुछ मिलने वाला है...
mahasakti
अब जो लोग भी "जूनियर ब्लॉगर एसोसिएशन तथा उससे जुडे किसी भी व्‍यक्ति का नाम करते हुये अभद्र पोस्‍ट लिखेगा तो अपनी भद्द करवाने का खुद जिम्‍मेदार होगा", जूनियर ब्लॉगर एसोसिएशन का प्रत्‍येक सदस्‍य अपना विरोध ऐसे वाहियात पोस्‍टो पर साम-दाम-दण्‍ड-भेद के साथ दर्ज करने के लिये स्‍वतंत्र है।