Wednesday, January 26, 2011

एक सवाल देश भक्तों से, देश प्रेमियों से, ब्लॉगरों से ??? मिथिलेश दुबे

जब १००० के नोट पर गाँधी जी की तस्वीर छप सकती है तो ५० के नोट पर शहिद भगत सिंह की तस्वीर क्यों नही छप सकती ???
१०० के नोट पर दलितों के मसीहा ड़ा० अंबेडक की तस्वीर क्यों नहीं ????
५० के नोट पर लक्ष्मीबाई की तस्वीर क्यों नहीं ??????
१० के नोट पर अरविंदों घोष की तस्वीर क्यों नहीं ???
क्या इनकी शहादत देश के लिए नहीं थी या गांधी जी की तुलना में कम थी ?????

14 comments:

  1. देश के विचार विचार-विमर्श करके ही इस निष्कर्ष पर पहुंचे होंगे। सबका आपना-अपना और महत्त्वपूर्ण योगदान है। पर राष्ट्रपिता पर सबकी सहमति है।

    ReplyDelete
  2. अरे इस का सीधा सा जबाब हे ओरो ने देश के लिये कुर्बनी दी हे, ओर इस गांधी बाबा ने नेहरु के लिये, अब उस वफ़ा दारी का कुछ लाभ तो मिलना चाहिये

    ReplyDelete
  3. यह तो बस एक ही पार्टी कर सकती है बी जे पी -लोगों का आरोप है कि मैं बी जे पी वाला हूँ !

    ReplyDelete
  4. क्यों काले धन में महापुरुषों को लिप्त करें। धन से ऊपर उठा उन्हें मन में बसायें।

    ReplyDelete
  5. सबका आपना-अपना और महत्त्वपूर्ण योगदान है। पर राष्ट्रपिता पर सबकी सहमति है।

    ReplyDelete
  6. @ अरविन्द जी ,
    बी.जे.पी. ने भी नहीं किया :)

    @ प्रिय मिथिलेश जी,
    फोटो वाले मसले पे मैंने दो पोस्ट डालीं थी कभी लिंक देता हूं !

    ReplyDelete
  7. शायद बहुमत की बात है.

    ReplyDelete
  8. मिथिलेश तुम्हारा प्रश्न विचारणीय है ……………शायद ऐसा अब तक सोचा ही नही गया और अब तुमने ये प्रश्न उठाया है तो हो सकता है इस पर भी गौर किया जाये मगर इस मुद्दे को तुम्हे राष्ट्रीय स्तर पर लाना होगा तभी इसका कोई हल निकल सकता है।

    ReplyDelete
  9. भाई क्योंकि इन लोगों के वंशज देश पर राज नहीं कर रहे.

    ReplyDelete
  10. बहुत पते की बात कही है ,गाधी ने तो देश में एक नपुंसक गोत्र ही खड़ा कर दिया और उनके अनुयायियों का ही शासन है इसीलिए गाधी ही गाधी है.

    ReplyDelete
  11. me to kehti hun kisi ki tasveer mat chhapo n...
    kya zarurat ha...
    gandhi ki hai to logo ko uspar jaisi apatti hai vaisi hi kisi dusre ki hone par bhi hogi...
    kuch aur hi hona chahiye...

    ReplyDelete
  12. इकनी फोटो से वोट नही मिलेंगे ... बस इतनी सी बात है ...

    ReplyDelete
  13. jis paise ke liye katal tak ho jaate hain, us paise par Gandhi ji ki hi photo theak hai. Bhagat singh aur Rani Laxmibai ke charitra ko saaf hi rahne de...
    agar meri raay se sahmat na ho to mail karen
    ms.aamin@gmail.com
    agar sahmat ho to bhi karen.

    ReplyDelete

आपकी राय हमारे लिये महत्तवपूर्ण है । अपनी बात को बेबाकी से कहें ।